सवाल

मैं हाईस्कूल का छात्र हूं. मेरी 2 बड़ी बहनें हैं. सब से बड़ी बहन की शादी को 2 वर्ष हो चुके हैं, लेकिन इधर कुछ दिनों से मेरे जीजाजी के मेरी छोटी बहन के साथ गलत संबंध बन गए हैं. मैं यह बात अपने मातापिता को भी बता चुका हूं. लेकिन वे मेरी बात नहीं सुनते. हमारी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है और जीजाजी ही हमारी मदद करते हैं. इसलिए मेरे मातापिता जान कर भी अनजान बने रहते हैं. कृपया इस समस्या का कोई समाधान बताइए?

ये भी पढ़ें- मैं अपनी पत्नी से ऊबने लगा हूं…

जवाब

आप की समस्या का सब से बड़ा समाधान आर्थिक रूप से आत्मनिर्भरता है. आप के पत्र से यह तो मालूम नहीं हुआ कि आखिर मातापिता के होते हुए भी ऐसी कौन सी समस्या है जो आप को ये सब अत्याचार सहने पर मजबूर कर रही है. इस के समाधान के लिए आप अपनी छोटी बहन को समझा सकते हैं. आवश्यकता पड़ने पर कानूनी सहायता भी ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें- मुझे अपना जीवन निरर्थक लगने लगा है, मेरी बातें सुनने वाला कोई है ही नहीं…

अगर आपकी भी ऐसी ही कोई समस्या है तो हमें इस ईमेल आईडी पर भेजें- submit.rachna@delhipress.biz

सब्जेक्ट में लिखें- सरिता व्यक्तिगत समस्याएं/ personal problem 

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...