पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण के मतदान से पहले गुरुवार को खूब बयानबाजियों का दौर चला. इस दौरान एक चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर हमला बोला. उन्होंने 'दीदी ओ दीदी...' कहकर सीएम ममता पर तंज कसा था. पीएम इससे पहले भी बंगाल चुनाव प्रचार के दौरान कई बार ममता बनर्जी पर 'दीदी ओ दीदी...' कहकर तंज कसते रहे है. और इससे पहले भी वे सोनिया गांधी पर बोलते हुए कुछ इसी तरह के लहजे का प्रयोग करते रहे हैं. ऐसे में सोचने वाली बात ये है कि क्या पीएम मोदी चुनाव प्रचार के दौरान यह बात भूल जाते हैं कि वे इस देश के प्रधानमंत्री है. खासकर जब किसी महिला के संबोधन की बात आती है तो चाहें वो किसी विपक्षी पार्टी की ही क्यों ना हो, क्या पीएम को संबोधन की भाषा में शालीनता नहीं रखनी चाहिए ?

Tags:
COMMENT