अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की अप्रैल 2020 के पहले हफ्ते में ही कड़ी आलोचना की थी. तब ट्रंप ने कहा था कि डब्ल्यूएचओ चीन परस्त रवैय्या अपना रहा है. उनके मुताबिक डब्ल्यूएचओ  ने कोराना वायरस से दुनिया को आगाह करने के संबंध में एक नहीं बहुत सारी गलतियां की थी. ट्रंप के मुताबिक डब्ल्यूएचओ को इस संक्रमण की चेतावनी उससे बहुत पहले जारी करनी चाहिए थी, जब उसने की. इन आलोचनाओं के बीच ट्रंप ने डब्ल्यूएचओ को तभी चेतावनी दे दी थी कि अमरीका आने वाले दिनों में डब्ल्यूएचओ को दिये जाने वाले फंड मंे रोक लगाने जा रहा है. लेकिन तब दुनिया को लग रहा था शायद ट्रंप अमरीका की स्थिति संभाल न पाने के कारण तनाव में हैं और डब्ल्यूएचओ के खिलाफ गुस्सा निकाल रहे हैं. लेकिन वह वास्तव में ऐसा नहीं करेंगे.

Tags:
COMMENT