अखबारों की हालत घर के किसी कोने में पड़े उपेक्षित बुजुर्गों सरीखी हो चली है, जो होते हुये भी नहीं होते. आमतौर पर अब लोग अखबार पर यूं ही सरसरी नजर डाल मान लेते हैं कि आज के ढाई तीन रुपये वसूल हो गए, लेकिन मध्य प्रदेश के लोग बीते 2 दिन से पूरा अखबार खोल कर इस उम्मीद के साथ पढ़ रहे हैं कि शायद किसी कोने में यह खबर दिख जाये कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धार के सरदारपुर कस्बे में एक सुरक्षाकर्मी कुलदीप सिंह गुर्जर को आपा खोते जोरदार थप्पड़ जड़ दिया.

COMMENT