रूस से डील करने वाले देशों पर कड़ा रुख दिखा रहे अमेरिका ने भारत रूस के बीच एस-400 मिसाइल समझौते को लेकर एक बयान जारी किया है.

अमेरिकी दूतावास ने कहा, "हमारे प्रतिबंधों का उद्देश्य रूस को दंडित करना है, उसके घातक बर्ताव और डिफेंस सिस्टम की फंडिंग को रोकना है न कि अपने सहयोगी देशों की सैनिक क्षमता को प्रभावित करना."

Digital Plans
Print + Digital Plans
COMMENT