3 दिसंबर 2018, उत्तरप्रदेश राज्य के बुलंदशहर में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या हिन्दू कट्टरवादी भीड़ ने कर दी थी. जिसमें कथित तौर पर इस घटना को अंजाम देने वाले बजरंग दल, विश्व हिन्दू परिषद् और भाजपायुमो से सम्बंधित आरोपी थे. घटना के बाद से ही इस मामले में भाजपा विपक्ष के निशाने में थी. एक बड़ा कारण यह कि गोकशी के मामले में महज शक पर मोब लिंचिंग के मामले भाजपा कार्यकाल में लगातार बढ़ने लगे, दूसरा, यह कि आरोपियों का संबंध सत्तारूढ़ पार्टी से जुड़ता दिख रहा था.

Tags:
COMMENT