बिल्ली को हमेशा छींका टूटने का इंतजार रहता है. अब छींका टूटने का इंतजार करने की जगह पर छींका तोडने की जोर आजमाइष भी करनी पडती है. राजस्थान में भाजपा भी सत्ता का छींका टूटने का केवल इंतजार ही नहीं कर रही उसके लिये पूरा प्रयास भी कर रही है. कांग्रेस की अदूरदर्षी सोंच की वजह से राजस्थान में सत्ता का छींका टूटकर भाजपा के पक्ष में जाने वाला है. कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा धन और सत्ता के बल का प्रयोग कर सत्ता की मलाई खाना चाहती है. इसमें कोई हर्ज करने वाली बात नहीं है क्योंकि सत्ता पर कब्जे के लिये यह सब कांग्रेस ने भी अपने जमाने में किया है. आज कांग्रेस उस से की तरह हो गई है जो अपने गुफे में पडे पडे ही उम्मीद कर रहा कि षिकार खुद उसके पास चल कर आये. सत्ता की रेस में यह संभव नहीं रह गया है. बिल्ली की तरह छींका टूटने का इंतजार करने की जगह पर छींका तोडने के लिये उछलकूद करनी पडती है.

Tags:
COMMENT