तेज गर्मी के बाद रिमझिम बरसात काफी राहत पहुंचाने वाली होती है. इस मौसम में जहां आप खुद को ऊर्जावान महसूस करते हैं वहीं बाल व स्किन की देखभाल को लेकर भी काफी दिक्कत महसूस होती है. ऐल्प्स की फाउंडर डायरेक्टर और मशहूर डर्मेटोलौजिस्ट डा. भारती तनेजा के अनुसार बारिश का मौसम आपके सौंदर्य और हैल्थ  को प्रभावित कर सकता है. स्किन तथा सिर पर गीलेपन की वजह से गंदगी व प्रदूषण फैलाने वाले तत्व आसानी से जम जाते हैं.  बाल बेजान व रूखे हो जाते हैं, जिससे आपकी सुंदरता में कमी आ सकती है. लेकिन आप इन टिप्स को अपनाकर इस मौसम में भी अपनी त्वचा व बाल की केयर कर सकते हैं. आइए जानते हैं कैसे-
1 . मौनसून के मौसम में स्किन को प्रदूषण से बचाए रखने के लिए क्लींजिंग बहुत जरूरी  है. साथ ही इस मौसम में  जब भी आपका चेहरा गीला हो तो आप सबसे पहले चेहरे को टिश्यू से क्लीन करें और अगर क्लीन करने के बाद चेहरे पर रूखापन लगे तो चेहरे पर मौइस्चराइजर अप्लाई करना न भूलें.
2 . इस मौसम में बैक्टीरिया व प्रदूषण से स्किन को बचाना बहुत जरूरी होता है. इसके लिए हर्बल साबुन का इस्तेमाल करना बेस्ट विकल्प  है. क्योंकि ये स्किन के ph लेवल को प्रभावित किए बिना  स्किन की अशुद्धियों को दूर करता है.

ये भी पढ़ें- ऐसे करें टमाटर फेशियल

3 . दिन भर में चेहरे को 2 -3  बार साफ पानी से धोएं. साथ ही आप चेहरे पर बर्फ भी लगाएं, क्योंकि इससे चेहरे पर पसीना नहीं आता और मुंहासों की समस्या से भी निजात मिलता है.
4 . मानसून के मौसम में हफ्ते में एक बार अपनी स्किन को एक्सफोलिएट जरूर करें.  यह गंदगी व स्किन के खुले छिद्रों को हटाने में मदद करने के साथ स्किन में चमक लाने का काम करता है. कुछ घरेलू उपाय जैसे कौफी, चीनी नींबू , बेकिंग सोडा या चावल का आटा स्किन को पोषण देने के  लिए काफी अच्छा माना जाता है. इसके लिए हफ्ते में एक बार चेहरे पर स्क्रब जरूर करें. तैलिये स्किन के लिए चावल के आटे में थोड़ा सा गुलाब जल मिलाएं, जबकि सामान्य या रूखी  त्वचा के लिए बादाम को दूध या दही में मिलाएं, लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि अत्यधिक संवेदनशील त्वचा वाली स्किन पर स्क्रब करने से बचें.
5.  मानसून के मौसम में अकसर पोर्स बंद होने के कारण पिम्पल्स होने लगते हैं , इसके लिए एक्टिवेटिड बैम्बू चारकोल युक्त फेशियल करवाएं. एक्टिवेटिड बैम्बू चारकोल चेहरे की अशुदियो को दूर कर रोमछिद्रों को खोलते हैं. ये मुंहासे, दाग धब्बे भी दूर करने का काम करते हैं.
6.  मानसून के मौसम में स्किन की टोनिंग करना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि ये रोमछिद्रों को बंद करने में मदद करता है और स्किन के ph बैलेंस को बहाल करता है. टोनिंग स्किन को  आमतौर पर  साफ करने के बाद की जाती है. आप चाहें  तो प्राकर्तिक उत्पादों जैसे ग्रीन टी ,नींबू  का रस, गुलाबजल और खीरे के पानी का उपयोग करके स्किन के लिए अच्छा टोनर तैयार कर सकते हैं. नमी और बारिश के कारण  स्किन को फ्री रेडिकल्स से बचाना होता है. इसलिए हफ्ते में दो बार स्किन पर टोनर का उपयोग जरूर करें  इससे स्किन हैल्दी  रहती है.
7.  पपीता और खीरा युक्त फेस पैक सभी प्रकार की स्किन के लिए उपयुक्त है.  यह स्किन की मृत कोशिकाओं को हटाकर रोमछिद्रों को खोल कर मुंहासों को कंट्रोल करता है. इसके इस्तेमाल से स्किन कोमल होती है और उसमें नमी बरक़रार रहती है.
8 बारिश के मौसम में ज्यादा चिपचिपी क्रीम्स के इस्तेमाल से बचना चाहिए. यदि आपकी ड्राई स्किन है तो लाइट मौइस्चराइजर  आपके लिए मददगार साबित हो सकता है.
9.  मानसून के समय नमी की अधिकता के कारण स्किन पर झुर्रियों से बचने के लिए सनस्क्रीन का उपयोग जरूर करें. अकसर इस मौसम में लोग सनस्क्रीन का उपयोग नहीं करते हैं लेकिन इस मौसम में वाटरप्रूफ सनस्क्रीन जरूर लगाएं .सामान्य स्किन वालो को ज्यादा spf  वाला सनस्क्रीन लगाना चाहिए और तेलिए स्किन वालों  को मिनरल फिलर वाला सनस्क्रीन लगाना चाहिए.

ये भी पढ़ें- 5 टिप्स: शेविंग के दौरान अपनाएं ये टिप्स

बालों की देखभाल
1.  बरसात के मौसम में तैलिय ग्रंथिया ज्यादा सक्रिय होती हैं, जिसके कारण सीबम के सिर पर जमने से बाल चिपचिपे हो जाते हैं. ऐसे में बालों की सफाई का खास ध्यान रखें और हफ्ते में 3 बार हेयरवाश  जरूर करें.
2. मानसून के दौरान सिर में खुजली होना व डैंड्रफ होना आम समस्या है. इसलिए आप एंटी डैंड्रफ शैम्पू का इस्तेमाल करना न भूलें.
3. बालों  को धोने से एक घंटा पहले बालों में अच्छे से मसाज जरूर करें. इससे हेयर्स में चमक बनी रहेगी. इसके साथ ही बारिश के मौसम में बाल चिपचिपे भी नहीं रहेंगे.
4.  जब तक बाल सूखे नहीं तब तक बाल को खुल्ले ही रखें.
5. हेयर स्ट्राइटेनेर या स्टाइललर  का इस्तेमाल न करें, क्योंकि  इससे बाल बेजान हो जाते हैं.
6. शैम्पू के बाद कंडीशनर जरूर करें, क्योंकि  इससे बालों में सौफ्टनेस आती है.
7.  बालों की मजबूती को बनाए रखने के लिए हफ्ते में 3 -4 बार बालों को प्रोटीन ट्रीटमेंट दें. इसके लिए फेंटे हुए अंडे को हेयर्स पर लगाएं. 15 मिनट तक इसे रहने दें और फिर पानी से धो लें .
8.  केले का हेयर मास्क या पैक मानसून के दौरान बालों होने वाले नुकसान से बचाने का शानदार घरेलू उपाय है. केले में मौजूद पोटैशियम आपके हेयर्स को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है. बालों में इसे लगाने के लिए दो छोटे केलों को ब्लेंड करें. अब इसमें एक चम्मच जैतून का तेल और तीन बड़े चम्मच मियोनीज मिलाकर  मास्क तैयार करें. अब इस मास्क को स्कैल्प और हेयर्स पर अच्छे से लगाएं. 30 मिनट तक इसे लगा रहने दें . फिर पानी से बालों को अच्छे से धो लें. 4 से 6  बार इस प्रक्रिया को अपनाने के बाद हेयर डैमेज की समस्या जड़ से समाप्त हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- होममेड हेयर मास्क: ऐसे पाएं घने और खूबसूरत बाल

Tags:
COMMENT