वैसे तो बाजार में बालों के ट्रीटमैंट के लिए कई तरह के हेयर मास्क उपलब्ध हैं पर महंगे होने के साथसाथ उन में कैमिकल्स भी होते हैं, जो बालों को नुकसान पहुंचाते हैं. ऐसे में बालों को नुकसान से बचाने के लिए मेकअप ऐक्सपर्ट रेनू महेश्वरी कुछ होममेड हेयर मास्क बता रही हैं:

जानें बालों के प्रकार

कोई भी हेयर मास्क चुनने से पहले अपने बालों के प्रकार को जानना जरूरी होता है. बाल 3 प्रकार के होते हैं- ड्राई हेयर, औयली हेयर और नौर्मल हेयर.

ड्राई व दोमुंहे बाल होने के कारण

  1. बालों को सुरक्षित रखने वाले प्रोटैक्टिव क्यूटिकल्स जब कम या खत्म हो जाते हैं अथवा बालों का नैचुरल औयल स्कैल्प से बालों के छोर तक नहीं पहुंच पाता तब बालों के सिरे रूखे हो फट कर दोमुंहे हो जाते हैं.
  2. स्ट्रौंग हेयर कलर व हेयर ड्रायर का प्रयोग, तेज धूप या हवा में रहने और बहुत तेजतेज कंघी करने पर भी बालों का नैचुरल औयल खत्म हो जाता है, जिस से वे दोमुंहे हो जाते हैं.
  3. धातु के कंघे का इस्तेमाल करने, गीले बालों में कंघी करने, बहुत देर तक बालों में तौलिया बांधे रखने या गीले बालों को तौलिए से झाड़ते हुए पोंछने पर भी वे दोमुंहे हो जाते हैं.
  4. सोते समय साटन का तकिया प्रयोग करने से भी बाल दोमुंहे हो जाते हैं.
  5. खाने में पौष्टिकता की कमी होने से भी बाल रूखे व दोमुंहे हो जाते हैं.
  6. परांदे या रिबन के इस्तेमाल से भी बालों का नैचुरल औयल खत्म हो जाता है.
  7. ज्यादा हेयरपिन लगाने से भी बालों को नुकसान पहुंचता है

ड्राई बालों को स्वस्थ और सुंदर बनाने के लिए निम्न होममेड हेयर मास्क हैं:

फू्रट मास्क: पपीता ड्राई व दोमुंहे बालों का अच्छा उपचार है. इस के लिए मध्यम आकार के पके पपीते को मैश कर उस में दही मिलाएं और फिर अच्छी तरह फेंटें. अब इसे बालों में मेहंदी की तरह लगा कर 30 मिनट बाद पानी से धो लें.

क्रीम टौनिक मास्क: 1/2 कप दूध में 1 बड़ा चम्मच क्रीम मिला कर अच्छी तरह फेंटें. फिर बालों में लगा कर 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें.

औलिव एग मास्क: औलिव औयल और अंडे के पीले भाग को मिला कर बालों पर लगाएं और 1 घंटे बाद हर्बल शैंपू से धो लें. इस के बाद बालों में कंडीशनर भी कर लें.

बीयर मास्क: यह ड्राई और नौर्मल दोनों तरह के बालों के लिए है. बालों को फुल प्रोटैक्शन देने के लिए अंडे का सफेद भाग और बीयर को एकसाथ फेंट लें. फिर बालों में शैंपू करने के बाद इसे लगाएं और 10 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें.

नारियल मास्क: इस मास्क में मौइश्चराइज करने वाले तत्त्व बालों को मौइश्चराइज कर के उन्हें मुलायम व चमकदार बनाते हैं. नारियल और जैतून के तेल को अच्छी तरह मिला कर बालों की जड़ों से सिरों तक लगाएं. फिर बालों को 1 घंटा कवर कर के रखें. बाद में शैंपू और कंडीशनर लगा लें.

ये भी पढ़ें- घर पर आसानी से ऐसे बनाएं वैक्स

केला क्रीम मास्क: यह मास्क कमजोर और रूखे बालों में नई जान डालेगा. यह जड़ों को नुकसान से बचा कर बालों को मजबूती देता है. केले में मौजूद आयरन और विटामिन बालों को पोषण भी देते हैं. इसे बनाने के लिए 1 केले का ग्राइंडर में पेस्ट बना लें. फिर उस में 1 चम्मच शहद डालें. इस पूरे घोल को बालों की जड़ों से सिरों तक लगाएं. 15-20 मिनट लगा रहने दें. बाद में कुनकुने पानी से धो लें. इस लेप को फिर प्रयोग करने के लिए फ्रिज में भी रख सकती हैं.

नौर्मल बालों के लिए हेयर मास्क

नरिशिंग हनी मास्क पैक: 1/2कप दूध में 1 बड़ा चम्मच शहद मिला कर अच्छी तरह फेंटें. फिर स्कैल्प में लगा कर हलके हाथों से मालिश करें. 30 मिनट बाद बालों को धो लें.

प्रोटीन पैक: 1/2कप छिलके वाली उरद दाल में 1 छोटा चम्मच मेथीदाना मिला कर ग्राइंड करें. फिर 1/2 कप दही में डाल कर फेंट लें. कुछ देर तक बालों में लगाए रखें. फिर बालों को धो लें.

घुंघराले बालों के लिए हेयर मास्क: 15-20 करीपत्ते, 1 टुकड़ा रतनजोत और एकचौथाई कप नारियल का तेल लें. करीपत्तों को पानी में और रतनजोत को नारियल तेल में रात भर भिगोए रखें. सुबह रतनजोत को तेल से निकाल लें. फिर तेल और भीगे करीपत्तों को एकसाथ अच्छी तरह मिला कर पीस लें. इसे सिर की त्वचा और बालों में अच्छी तरह लगाएं. 1 घंटा बालों में लगा रहने दें. फिर बालों को अच्छी तरह धो लें. यह हेयर मास्क घुंघराले बालों के लिए बहुत अच्छा होता है.

औयली हेयर के लिए हेयर मास्क

तैलीय प्रकृति वाले बालों के लिए ये हेयर मास्क अपनाएं:

जई से बना हेयर मास्क: यह हेयर मास्क सिर की तैलीय त्वचा, रूसी, खुजली और जलन से जूझने वालों के लिए बेहतरीन है. इसे बनाने के लिए 1 चम्मच जई, 1 चम्मच दूध और 1 चम्मच बादाम के तेल को एकसाथ मिला कर लेप बना लें. लेप में कोई गांठ न हो. फिर इसे बालों में लगा लें. इस लेप को 15-20 मिनट बालों में लगा रहने के बाद उन्हें कुनकुने पानी से धो लें.

एग मास्क और औलिव औयल : अंडे के हेयर मास्क में काफी ज्यादा प्रोटीन, विटामिन और फैटी ऐसिड होता है. इस से बालों के झड़ने की समस्या नहीं होती. साथ ही जैतून का तेल आप के बालों में मजबूती भरेगा और उन्हें कोमल बनाएगा. इसे बनाने के लिए 2 अंडों का सफेद भाग, 1 चम्मच शहद, 1 चम्मच जैतून का तेल ले कर एक कटोरे में तीनों को मिक्स कर के बालों में लगा कर शावर कैप पहन लें. 15-20 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें. इस मास्क को महीने में 1-2 बार ही प्रयोग करें.

ये भी पढ़ें- क्या आप जानते हैं, बालों में शैम्पू करने का सही तरीका

मास्क बनाने में तेल का प्रयोग

यदि आप पहली बार मास्क बना रही हैं, तो शुरुआत में आप जैतून के तेल का प्रयोग करें. यह सब से अच्छा होता है. बाद में आप दूसरे तेल का प्रयोग कर सकती हैं.

जोजोबा तेल: तैलीय से सामान्य बालों के लिए.

बादाम का तेल: सामान्य से रूखे बालों के लिए.

नारियल तेल: रूखे बालों के लिए.

गाय का घी: कंडीशनर करने और बालों को सफेद होने से बचाने के लिए.

ऐक्स्ट्रा ड्राई बालों के लिए तेल

अगर बाल बहुत ज्यादा नाजुक और रूखे हो गए हैं, तो आप अंडे और जैतून के तेल के मिश्रण के अलावा कुछ और भी लगा सकती हैं. जैसे शहद, ऐलोवेरा जैल, दूध, अंडा, कच्चा ऐवोकैडो या केला.

कलर्ड हेयर के लिए : यदि आप नियमित हेयर कलर लगाती हैं तब जोजोबा औयल आप के लिए बेहतरीन है. इस से क्षतिग्रस्त कलर्ड और रूखे बालों को रिपेयर किया जा सकता है.

बाल झड़ने के ट्रीटमैंट पैक

ये सभी तरह के बालों के लिए उपयोगी हैं:

हेयर पैक पाउडर

आंवला, शिकाकाई, हरड़, भृंगराज, ब्राह्मी, मेथी, मिनरल क्ले, रोजमैरी, ऐलोवेरा और सागा. इन सब को पीस कर पैक तैयार करें. जरूरत पड़ने पर इस पाउडर को गरम पानी में 2 घंटे तक भिगो कर बालों में लगाएं. अगर बाल तैलीय हैं, तो सादा पैक लगाएं और अगर बाल रूखे हैं, तो उस में 2 अंडे फेंटें. फिर इसे बालों की जड़ों में 30 मिनट लगा कर साफ पानी से धो कर बालों में हलका सा सीरम लगाएं. इस से वे चमकदार बनते हैं.

बालों की कमजोर जड़ों के लिए मास्क

हिबिस्कस (गुड़हल) हेयर मास्क: अगर आप के बालों की जड़ें काफी कमजोर हैं, तो यह पैक आप के लिए बहुत अच्छा रहेगा. यह मास्क स्कैल्प में खून के संचार को सुचारु करता है और रोमछिद्रों को अवरुद्ध होने से रोकता है. यह बालों की जड़ों तक पोषण पहुंचा कर उन्हें घना बनाता है.

ये भी पढ़ें- घर पर पाएं पार्लर जैसा क्लीनअप

विधि: 1 कप पानी में 6-7 गुड़हल की पत्तियां डाल कर रात भर के लिए छोड़ दें. सुबह एकचौथाई पानी और 2 चम्मच कच्चे दूध के साथ पत्तियों को मिक्सी में पीस लें. फिर इसे हलके हाथों से बालों में लगाएं. 20-25 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें. इसे नियमित लगाएं.

Tags:
COMMENT