अक्सर हर किसी के लाइफ में कोई न कोई बेस्ट फ्रैंड होता ही है. हम अपनी सारी बातें बेस्ट फ्रैंड से शेयर करते हैं, और ज्यादा समय उसी के साथ बिताना चाहते हैं. ऐसे में अगर बेस्ट फ्रैंड अपोजिट सैक्स का हो तो प्यार होने की संभावना ज्यादा होती है. लेकिन ये कतई जरूरी नहीं है कि अगर आप अपने बेस्ट फ्रेंड से प्यार करते हैं तो वो भी आपसे प्यार करें.

ऐसे में आपका दिल तो दुखेगा ही और इसके साथ ही आपकी दोस्ती भी इफेक्ट होती है. तो चलिए जानते हैं, बेस्ट फ्रेंड से प्यार क्यों नहीं करना चाहिए.

प्यार के कारण दोस्ती में भी दरार पड़ सकती है –  प्यार के कारण दोस्ती में भी दरार पड़ सकती है. ऐसा जरूरी नहीं है कि जैसा आप अपने बेस्ट फ्रेंड के बारे में सोच रहे हैं,  वे भी आपको लेकर वैसा ही महसूस करें. हो सकता है, वह आपको केवल बेस्ट फ्रैंड मानता हो या मानती हो. और उन्हें किसी और से प्यार हो जाएं तो यह भी आपके लिए एक दुख का कारण बन सकता है. इससे आपकी आपकी दोस्ती भी खराब हो सकती है.

आपको सलाह देने वाला कोई नहीं रहेगा – अपने लाइफ के सबसे अच्छे सलाहकार को खो सकते हैं. अगर आप परेशान होते हैं तो आपको समझाने वाला आपका बेस्ट फ्रैंड आपसे दूर चला जाएगा. आप दोनों के बीच हुई समस्या को सुलझाने वाला भी कोई नहीं रहेगा जिसकी वजह से आपका झगड़ा लंबे समय तक चल सकता है.

दोस्ती फिर पहले की तरह नहीं रहेगी – किसी भी  रिश्ते में गांठ पड़ जाती हैं तो बहुत मुश्किल होता है उस गांठ को सुलझाने में. वैसे ही आपकी दोस्ती का भी रिश्ता है. तो अगर आपके दोस्ती  में गाठ पड़ती हैं तो  फिर आपके लिए बहुत कठिन होगा उसे ठीक करना.

जी हां अगर आप अपने बेस्ट फ्रेंड को गर्लफ्रैंड या बौयफ्रैंड बनाने के बारे में सोच रहें हैं तो आपको सबसे पहले अपनी दोस्ती के बारे में सोचना चाहिए, क्योंकि प्यार की वजह से आप अपने बेस्ट फ्रैंड को खो सकते हैं.

Tags:
COMMENT