किसी भी रिश्ते की डोर विश्वास के धागों पर टिकी होती हैं. अगर किसी भी रिश्ते में जाने-अंजाने भरोसा टूट जाएं तो उस भरोसे को दुबारा वापस पाना बहुत कठिन है. रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए उसमें भरोसे की सबसे ज्यादा जरूरत है.

अगर आपने अपने साथी का भरोसा तोड़ा है तो उसे वापस पाने के लिए बहुत सी बातों को ध्यान रखने की जरूरत होती है. ऐसे में आप अपने साथी से बात करें और उन्हें विश्वास दिलाएं तो यह भरोसा दोबारा जीता जा सकता है. पर इसके लिए आप दोनों को बराबर कोशिश करने की जरूरत है.

खुद को माफ करें– अपने पार्टनर से मांफी मांगने से पहले आपको खुद को माफ करने की जरूरत है क्योंकि जब तक आप अपनी गलती को मांफ नहीं करेंगे तब तक कोई भी उसे माफ नहीं कर पाएगा. किसी भी रिश्ते में विश्वास लाने से पहले आपको खुद पर विश्वास करने की ज्यादा जरूरत होती है. अपनी गलती को माने और कोशिश करें कि आगे भविष्य में इस गलती को ना दोहराएं और अपने साथी को भी दुख ना दें.

अपनी भावनाओं को व्यक्त करें – सबसे पहले आपको अपने साथी के सामने इस बात को मान लेनी चाहिए कि आपने उसके विश्वास तोड़कर गलती की है ताकि उसे इस बात का एहसास हो कि आपको अपनी गलती का पछतावा है. फिर इसके बाद अपनी भावनाओं को जाहिर करें. ये सारी बातें आपके पार्टनर को प्रभावित कर सकती है और आप वापस उनका विश्वास हासिल कर सकते हैं.

अपनी जिंदगी से जुड़ें हर बात को शेयर करें – अगर आप अपने पार्टनर का भरोसा दोबारा जितना चाहते हैं तो उसके लिए आपको अपने जिंदगी से जुड़े हर बात के बारे में अपने साथी को बताना चाहिए ताकि उसे आपके ऊपर किसी प्रकार का संदेह ना रहें. अपने बीच कोई प्राइवेसी ना रखें. इससे आपका साथी शायद इस बात को समझ पाएगा की आप आगे भविष्य में उसके साथ कुछ गलत नहीं करेंगे और ना ही धोखा देंगे.

मांफी मांगें- आपको अपने रिश्ते में विश्वास वापस लाने के लिए अपने पार्टनर से मांफी मांगने की जरूरत होती है. अपने साथी को इस बात का विश्वास दिलाएं कि जो भी गलती आपसे हुई. वैसे आगे भविष्य में नहीं होगी.

Tags:
COMMENT