दोस्ती को परिभाषित करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन प्यार क्या है ये समझना उससे भी कहीं ज्यादा मुश्किल. दोस्ती दो लोगों को जोड़ती है और प्यार दो दिलों को. अपने दोस्त को प्यार करना स्वभाविक है लेकिन आप इस बात को कैसे पहचानेंगे कि ये प्यार रोमांटिक लव नहीं है. कई बार दोस्ती और प्यार के बीच फर्क करना बहुत मुश्किल हो जाता है.

अगर आप इस विषय को लेकर चिंतित हैं तो थोड़ा समय लें और अपने रिश्ते को अच्छे से परखें कि आपका किसी इंसान के साथ सम्बंध केवल दोस्ती है या इससे कहीं ज्यादा. कुछ तरीके हैं जिनकी मदद से आप जान सकती हैं कि प्यार और दोस्ती में क्या फर्क है ताकि आपको प्यार के लिए अपनी दोस्ती ना खोनी पड़े.

पसंद और विचार – अगर दोस्ती की बात करें तो वो लोग जो दोस्त होते हैं उनके बीच काफी चीजें समान होती है. उनकी पसंद और उनके विचार मिलते-जुलते हैं. लेकिन प्यार में होते वक्त ऐसा नहीं होता. अगर आप किसी के साथ प्यार में हैं तो आप दोनों के विचार और पसंद अधिकतर एक-दूसरे से अलग होते हैं और यही चीज है जो आप दोनों को एक-दूसरे की तरफ आकर्षित करती है.

अपनी भावनाओं की गहराई से समझें – थोड़ा समय लेकर अपनी भावनाओं को परखें और जानें कि आपके जज़्बात कितने गहरे हैं. बहुत सी चीजें ऐसी है जिन्हें आप अपने दोस्त और प्रेमी दोनों के लिए महसूस कर सकते हैं. लेकिन आप कितनी गहराई और कितनी बार वो चीजें किसी के लिए महसूस कर रहे हैं उससे पता चलता है कि आप किसी से प्यार करते हैं या उसे सिर्फ अपना दोस्त मानते हैं.

बात करने का तरीका – आपका बात करने का तरीका आपके दोस्त और लव्ड वन के साथ अलग-अलग होता है. दोस्त आपस में बात करते वक्त बहुत सामान्य होते हैं. वो एक दूसरे को कुछ निक नेम्स से बुला सकते हैं, जैसे- बडी, फ्रेंड आदि अगर आप किसी से बात करते वक्त इस तरह के निक नेम्स इस्तेमाल करते हैं तो आप उसे अपना दोस्त मानते हैं. जबकि जिससे आप प्यार करते हैं उससे बात करने का लहजा आपका अलग होता है.

Tags:
COMMENT