लेखिका- स्नेहा सिंह 

आज की दौड़भाग भरी जिंदगी में खाना तो नसीब है लेकिन उसे चबाना नहीं. हर कोई जल्दीजल्दी खा लेना चाहता है. लेकिन ध्यान रहे, यह आदत भविष्य में मुसीबत बन सकती है. स्नेहा सिंहभागदौड़ भरी जीवनशैली में काम की व्यस्तता के कारण लोगों के पास आज इतना समय नहीं होता कि वे शांति से बैठ कर खाना खा सकें. अब तो लोग खाना भी भागमभाग के बीच ही खाते हैं. कभी अगर शांति से खाने का समय मिलता भी है तो लोग इसे एक काम की ही तरह निबटाते हैं.

उतावलेपन में खाया गया खाना स्वास्थ्य को तमाम तरह से नुकसान पहुंचा सकता है. घर के बड़ेबुजुर्ग अकसर हमें धीरेधीरे और चबा कर खाने की सलाह देते हैं. जल्दीजल्दी खाना खराब आदत में शुमार किया जाता है. अगर आप की भी ऐसी ही आदत है तो आप को समय से चेत जाना चाहिए, वरना आप के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है. द्य ओवरईटिंग की समस्या : जल्दीजल्दी खाने के चक्कर में कभीकभी हम अधिक खा लेते हैं. इस ओवरईटिंग के कारण वजन बढ़ जाता है और शरीर में तरहतरह की बीमारियां लग जाती हैं. जब हम जल्दीजल्दी खाते हैं तो हमारे दिमाग तक यह संदेश नहीं पहुंच पाता कि हमारा पेट भर गया है.

ये भी पढ़ें- एंटी कैंसर थेरैपी में देरी ठीक नहीं

-फैटी बौडी : जल्दीजल्दी खाने से शरीर का वजन बढ़ने की समस्या अब सामान्य हो गई है. जल्दीजल्दी खाने से डाइट का संतुलन नहीं बनता. खाने को अगर धीरेधीरे चबा कर खाया जाए तो शरीर का वजन बढ़ने की समस्या नहीं होती.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT