स्वस्थ, सुडौल बने रहना सभी को अच्छा लगता है पर भागदौड़ भरे जीवन में चाहते हुए भी बहुत सी चीजों और कामों को नजरअंदाज करना पड़ता है. इस का नतीजा यह होता है कि शरीर अस्वस्थ और स्थूल बनता चला जाता है, तब पछताने के सिवा इनसान के पास कुछ भी नहीं बचता. ऐसे में डाक्टर क्या सलाह देते हैं, यह जानने के लिए हम ने कुछ खास डाक्टरों से भेंट की. दिल्ली के बोन एंड जायंट्स केयर फाउंडेशन के निदेशक डा. सुभाष शल्या का कहना है, ‘‘यदि आप अपने व्यस्त जीवन में से कुछ समय अपने लिए निकाल कर उसे खर्च करें तो आप को जीने का अधिक मजा आएगा और आप वृद्धावस्था तक चुस्तदुरुस्त बने रहेंगे.’’

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT