मुंहासे युवा स्किन की एक आम समस्या है, जो ज्यादातर किशोरावस्था की शुरुआत के साथ ही पैदा होती है. यह शरीर में होने वाले हार्मोनल चेंज का नतीजा है. लेकिन मुंहासों से जुड़ी कुछ चीजें ऐसी हैं, जिनके बारे में शायद आपको पता नहीं है. इन वजहों से भी आपके चेहरे पर मुंहासे पैदा होते हैं. कुछ लोग मानते हैं कि उनका खानपान खराब होने की वजह से मुंहासे निकल रहे हैं. मां-नानी टोकती हैं कि ज्यादा गर्म और चिकनाहट वाली चीजें मत खाओ. कभी कहती हैं कि मिर्च-मसाले वाला खाना मत खाओ. जबकि ये वजहें आपके मुंहासे का कारण नहीं हो सकती हैं. आप जिस तरह से अपनी त्वचा का ख्याल रखते हैं, वह महत्वपूर्ण है. यहां हम आपको कुछ ऐसी चीजें बता रहें है जो मुंहासे बढ़ाने का काम करती हैं. अगर आप अपनी इन आदतों में सुधार ले आयें तो मुंहासों से बच सकते हैं.

  1. बार-बार चेहरा धोना

मुंहासे से पीड़ित ज्यादातर लोग सोचते हैं कि चेहरे को छ: से सात बार धोना मुंहासे से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है. लेकिन यह सच नहीं है क्योंकि, अतिरिक्त स्क्रबिंग या धोने से रोमछिद्र त्यादा खुल सकते हैं. जो बदले में आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाता है और मुंहासों को और खराब कर देता है. इसके अलावा, चेहरे को धोने के दौरान गर्म पानी का उपयोग न करें. किसी भी साबुन का प्रयोग करने से पहले एक बार डौक्टर की सलाह जरूर लें. चेहरे को दिन में दो से तीन बार ही ठंडे पानी और डेटौल सोप से धोना अच्छा होता है.

2. मुंहासों को दबाना या फोड़ना

मुंहासों के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह न केवल आपका चेहरा खराब कर सकता है बल्कि सूजन पैदा करके त्वचा को और ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है. इसके अलावा, घावों के कारण त्वचा में संक्रमण का खतरा भी बढ़ा सकता है.

ये भी पढ़ें- इन घरेलू उपायों से दूर करें अनियमित पीरियड्स की समस्या

3. औयल बेस्ड ब्यूटी प्रौडक्ट

मुंहासे तब होते हैं जब त्वचा के रोमछिद्र मृत त्वचा और तेल से घिरे होते हैं और बैक्टीरिया का निर्माण करते हैं.  आयल बेस्ड ब्यूटी प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करने से त्वचा में और ज्यादा धूल व गंदगी चिपकती है. रोम छिद्र बंद होने से मुंहासों का आकार बढ़ सकता है और चेहरे पर सूजन भी आ सकती है. इसलिए अगर मुंहासे हैं तो आयल बेस्ड ब्यूटी प्रौडक्ट के इस्तेमाल से बचें और फेस क्रीम डौक्टर की सलाह पर ही यूज करें.

4. मौश्चराइजर का इस्तेमाल न करना

आमतौर पर लोग मुंहासे होने से मौश्चराइजर लगाने से बचते हैं, क्योंकि यह भी आयल बेस्ड होता है. लेकिन सौन्दर्य विशेषज्ञों का मानना है कि त्वचा की नमी बरकरार रखने के लिए आप थोड़ी मात्रा में मौश्चराइजर का प्रयोग अवश्य करें. इसके ज्यादा साइडइफेक्ट नहीं हैं.

5. तनाव में होना

जिन्हें मुंहासे की समस्या है उनके लिए तनाव लेना हानिकारक सिद्ध हो सकता है क्योंकि तनाव से मुंहासे और ज्यादा बढ़ते हैं. तनाव से बचने के लिए आपको मेडिटेशन या किसी हैप्पीनेस एक्टिविटी में हिस्सा लेना चाहिए. इससे आप ज्यादा से ज्यादा समय खुश रहेंगे और मुंहासों को बढ़ने से रोक पाएंगे.

ये भी पढ़ें- 6 टिप्स: ऐसे कम करें पैरों का फैट

Tags:
COMMENT