गर्मियों की दस्तक ही लोगो को परेशानियो का सामना करने पर मजबूर कर देतीहै।क्योंकि गर्मी तो आती ही है,लेकिन कई रोगों को भी अपने साथ लाती है। गर्मियों में एलर्जी, डायरिया और घबराहट होना जैसी बीमारिया आम बात हो जाती है। गर्मियों में धूप की तपिश ,पसीना,उमस  आदि से होने वाली एलर्जी काफीपरेशान करती है . डाक्टरों का कहना है कि यह आम बातहै, इसे इतनी बडी परेशानी समझ कर परेशान न हों. परंतु ध्यान अवश्य रखें, लापरवाही न करें. साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें। खास तौर पर जिन्हें बाहर धूप में अधिक समय तक काम करना पड़ता है, उन्हें कई तरह की एलर्जी का सामना करना पड़ सकता है. जैसेआंख में पानी आना,जलन महसूस करना ,आंख का लालहोजाना, (कंजक्टिवाइटिसभीहो सकताहै)जुकाम होना ,डायरियाहोनायेभी एक आम तरह की गर्मियों में होने वाली एलर्जी है.  जो बाहर खाने पीने से तो होती ही है, अधिक गर्मी के कारण कभी-कभीघर के खाने से भी बदहजमी हो सकती है . बाहर रह  कर  घर की तरह साफ खाना पीना नहीं हो पाता है। गर्मियों में लोग अक्सर तरावट के लिए  बाहर गन्ने का रस पीते है, जो तमाम मख्कियों से घिरा होता है। मक्खियों की वजह से हानिकारक (इन्फेक्शन) हो जाता है जिसकी वजह से डायरिया भी हो सकता है. तो विशेष तौर पर बाहर  खाते- पीते समय साफ सफाई का अवश्य ध्यान रखना होगा. बाहर के खाने में घी, तेल, पीने का पानी पर विशेष ध्यान देना होगा . कारण थोड़ी सी बचत या लापरवाही  के चक्कर में तमाम परेशानियां झेलनी पड़ सकती है.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT