आप सभी इस बात से वाकिफ है कि पानी अनमोल है क्योंकि हमारी जीवन शैली पानी पर ही निर्भर करती है. एक व्यस्क पुरुष के शरीर में पानी उसके शरीर के कुल भार का लगभग 65 प्रतिशत और एक व्यस्क स्त्री शरीर में उसके शरीर के कुल भार का लगभग 52 प्रतिशत तक होता है. पानी से हमारे शरीर की अंदरूनी सफाई होती है व ज्यादा पानी पीने से शरीर को नुकसान पहुंचने वाले अनुपयोगी पदार्थ मूत्र व पसीने के जरिये बाहर निकल जाते हैं.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT