उत्तर प्रदेश के मेरठ के नौचंदी पुलिस थाने के एसएचओ ने पौराणिक न्याय करने के लिए एक नई जुगत निकाली है. वे हर शिकायतकत्र्ता को खुद अशुद्ध मानते हैं और उसे गंगाजल से धोते हैं. गनीमत है कि गंगाजल का असर इतना ज्यादा माना जाता है कि कुछ बूंढ़ों से ही पाप धुल सकते हैं. इसलिए उन की छिडक़ी बूंदों पर शिकायतकत्र्ता सिर झुका लेता है.

Tags:
COMMENT