हमारे धर्म की नैतिकता की पोल वैसे तो हमेशा ही खुली रहती थी पर इस बार कोविड संकट में जिस तरह से खुली है वह पहली बार तो नहीं हुआ पर हरेक के हिलाने वाला अवश्य होनी चाहिए जिस तरह मरते लोगों की परवाह किए बिना लोगों ने ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, रेम........, डौक्सी, प्लाज्मा, अस्पताल के बेड, आईसीयू में भर्ती में ऊपरी पैसा मांगा या मोटा मुनाफा कमाया, वह दहलाने वाला था.

Tags:
COMMENT