आम सा लगने वाला सिरदर्द किसी गंभीर समस्या की दस्तक हो सकता है. कैमिस्ट से ली दवाइयों पर टिके रहने पर आप अपनी जान खतरे में डाल सकते हैं. जानें कि कब सिरदर्द को हलके में न ले कर डाक्टर से मिलना जरूरी है.

अकसर सिरदर्द होने पर हम कौंबिफ्लेम, डिस्प्रिन जैसी दर्दनिवारक गोलियां खा लेते हैं इस बात पर गौर किए बगैर कि सिरदर्द केवल एक लक्षण है. सिरदर्द के कई कारण हो सकते हैं. साधारण चिंता से ले कर ब्रेन ट्यूमर जैसे जानलेवा रोग का लक्षण सिरदर्द हो सकता है. हम आप को डरा नहीं रहे हैं, लेकिन जब सिरदर्द लगातार बना रहे, या कुछ समयांतरालों पर होता हो और दर्दनिवारक गोली खाने के बाद भी आराम न आए, तो डाक्टर से संपर्क करना जरूरी है.

Tags:
COMMENT