फिल्म ‘बाहुबली’ से चर्चित होने वाले अभिनेता प्रभास हैदराबाद के हैं. उन का परिवार तमिल और तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ा था, पर उन्हें अभिनेता बनने का शौक नहीं था. उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है और एक व्यवसायी बनने की इच्छा रखते थे. पर उन की कदकाठी उन्हें इस क्षेत्र की ओर ले आई और आज वे सब से अधिक फीस लेने वाले एक्टर बन चुके हैं. उन्हें हिंदी लिखना और पढ़ना अच्छी तरह से आता है. दक्षिण की फिल्मों में अमिट छाप छोड़ने वाले प्रभास ने हिंदी फिल्म ‘साहो’ से डैब्यू किया है और आगे भी हिंदी फिल्मों में काम करना चाहते हैं.

‘बाहुबली’ के बाद जिंदगी कितनी बदली है? इस प्रश्न के जवाब में प्रभास कहते हैं, ‘‘अभी कैरियर की कोई चिंता नहीं है. ‘बाहुबली’ की दोनों फिल्में बौक्स औफिस पर कामयाब रही हैं. मैं ने पहले ‘बाहुबली’ को तमिल और तेलुगू में किया था. दक्षिण में इस फिल्म ने अच्छा काम किया था, पर ‘बाहुबली’ का दूसरा भाग तो बहुत ही खास था. इसे पूरे देश में लोगों ने देखा और मेरे काम को सराहा. केवल देश में ही नहीं, विदेश में भी इस फिल्म को देखा गया.’’

ये भी पढ़ें- ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’: नायरा और कार्तिक से नफरत करने लगेंगे लव-कुश

आप बौक्स औफिस की सफलता को कैसे लेते हैं? इस पर वे कहते हैं, ‘‘इसे देखना जरूरी होता है, क्योंकि जब आप एक फिल्म बनाते हैं, तो उस में करोड़ों रुपए लगे होते हैं. ऐसे में कौन सी फिल्म कहां चलेगी और कितनी चलेगी, इसे देखना चाहिए ताकि फिल्म बनाने वाले को नुकसान न हो.’’

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT