बौलीवुड में अक्षय कुमार, आमीर खान, अमिताभ बच्चन, सलमान खान से लेकर कई कलाकार अक्सर जरुरतमंद बच्चों की मदद करते रहते हैं. बौलीवुड के कलाकार जब भी किसी अच्छी मुहीम, फिर चाहे वह स्वच्छता मुहीम हो या पानी बचाने की मुहीम हो, से जुड़ते हैं, तो जमकर प्रचार होता है. बड़ी बड़ी प्रेस कौफ्रेंस तक हो जाती है. बौलीवुड से जुड़े कलाकार जब किसी की आर्थिक मदद करते हैं, तो वह भी जग जाहिर होता है. यहां तक कि रकम तक प्रचार माध्यमों का हिस्सा होती है.

जबकि दक्षिण भारत के कई कलाकार समाज सेवा का कार्य निरंतर निर्बाध गति से करते जा रहे हैं. मगर वह कभी भी अखबार की सूर्खियों में नही आते. जब फरवरी 2019 में तमिल व तेलगू भाषा की 25 फिल्मों की अदाकारा विजयलक्ष्मी अस्पताल में भर्ती हुई थी और उन्होंने मदद की गुहार लगायी थी, तो कई अन्य कलाकारों के साथ ही किचा सुदीप ने भी अपनी तरफ से एक लाख रूपए दिए थे, जिसे ‘‘कर्नाटक फिल्म चेम्बर्स आफ कामर्स’’ के सेक्रेटरी हरीश ने ट्वीट कर जगजाहिर किया था.

मगर हाल ही में जब सुदीप से फिल्म ‘‘पहलवान’’ के समय एक्सक्लूसिव बातचीत हुई, तो पता चला कि सुदीप के नाम से मशहूर अभिनेता किचा सुदीप हर वर्ष अपनी कमाई का चालिस प्रतिशत से अधिक राशि समाज सेवा के कार्यों में खर्च करते हैं.

वास्तव में इस एक्सक्लूसिव मुलाकात के दौरान हमने किचा सुदीप से जब पूछा कि आप अभिनय, फिल्म निर्माण, लेखन, निर्देशन व गायन से अच्छी कमायी कर रहे हैं, फिर भी आपने ‘‘स्टेज 360’’ जैसी कंपनी बनायी हुई है? आखिर आपकी यह कंपनी क्या करती है? इस पर बड़ी संजीदगी के साथ सुदीप ने कहा- ‘‘मैंने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है. आप यकीन नही करेंगे मगर बतौर कलाकार संघर्ष के दौरान एक वक्त वह था, जब मैंने पांच सौ रूपए में पूरा माह गुजारा है. हम जब फिल्म उद्योग से जुड़े, तो हमारी मदद के लिए कोई नहीं था. यदि हम यहां हैं, हमारी वजह से चार लोगों को मदद मिल जाए, तो कुछ बुरा तो नहीं होगा. इसी सोच के साथ हम ‘स्टेज 360’ के माध्यम से युवा प्रतिभाओं को बढ़ावा देने का काम करते हैं.’’

ये भी पढ़ें- ‘‘आसामी” होने के चलते देश के दूसरे राज्यों में भी करना पड़ा परेशानियों का सामना: लारिसा चौक्ज

उसके बाद सुदीप चुप होकर कुछ सोच में पड़ जाते हैं. तब हमने उनसे कहा कि आप संकोच न करें, बताएं कि आप बाकी क्या कर रहे हैं. तब सुदीप ने कहा- ‘‘सर… मैंने बहुत कुछ किया है. मेरी सोच रही है कि मनोरंजन को और लोगों के जीवन को इम्प्रूव किया जाए. कुछ ऐसा काम किया जाए, जिससे लोगों का हौसला बढ़े. मैं बहुत कुछ करता रहता हूं. मैंने पश्चिमी बैंगलोर के शिवामोगा में 18 बच्चों को एडौप्ट किया है. दो स्कूल एडौप्ट किए है. 22 बुजुर्गों को एडौप्ट किया है. इसके लिए मैं सरकार से कोई अनुदान/मदद नहीं लेता. मैंने अनाथालय चला रखा है. मेरी कमाई का चालिस प्रतिशत से अधिक हिस्सा अनाथालय को जाता है. मुझे यह सब करना अच्छा लगता है. इसलिए जब हम सड़क पर उतरते हैं, तो अच्छा लगता है. मुझे सड़क पर पैदल चलने में कोई संकोच नही हेाता.’’

सुदीप के नाम से मशहूर किचा सुदीप मूलतः इंडस्ट्यिल एंड प्रोडक्षन इंजीनियर हैं. उनके पिता होटलेरियर थे. पर उन्होंने काफी संघर्ष कर फिल्म उद्योग में अपना एक अलग मुकाम बनाया है. वह अभिनेता, निर्माता,  निर्देशक, लेखक, गायक, समाजसेवी, बिजनेसमैन, क्रिकेटर सहित काफी काम कर रहे हैं.1997 से अब तक वह बतौर हीरो 54 कन्नड़, तमिल, हिंदी व तेलगू फिल्में,16 फिल्मों में कैमियो, टीवी शो, ‘फुंक’, ‘रक्तचरित्र 2’, ‘रन’ व ‘बाहुबली प्रथम’ ’जैसी हिंदी फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं. छह फिल्मों का लेखन व निर्देशन किया है. इन दिनों वह 12 सितंबर को प्रदर्शित हो रही फिल्म ‘‘पहलवान’ को लेकर चर्चा में हैं, जिसमें उनके साथ आकांक्षा सिंह और सुनील शेट्टी भी हैं. स्वप्ना कृष्णा निर्देशित फिल्म ‘‘पहलवान’’ मूलतः कन्नड़ फिल्म है, जिसे हिंदी, तमिल, तेलगू व मलयालम में डब करके रिलीज किया जा रहा है. तो वहीं वह बहुत जल्द सलमान खान के साथ फिल्म ‘‘दबंग 3’’ में भी नजर आएंगे. इतना ही नहीं अमिताभ बच्चन के साथ एक तेलगू फिल्म भी कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- नच बलिए 9: इस एक्ट्रेस ने शो में हिस्सा लेने के लिए एक्स को किया कौल तो मिला ये जवाब

Tags:
COMMENT