14 वर्षों तक फिल्म ‘‘बाहुबली’’ फेम निर्देशक एस. एस. राजामौली के संग सहायक निर्देशक रहे वीर नारायण अब स्वतंत्र निर्देशक व लेखक की हैसियत से फिल्म ‘‘भयम’’ लेकर आ रहे हैं. ‘ओम श्री एंटरटेनमेंट’ और ‘शीश चित्रा एंटरटेनमेंट’ के बैनर तले बन रही फिल्म ‘‘भयम’’ एक हौरर साइको थ्रिलर है. “भयम” शब्द का अर्थ भय है.

film-bhayam

इस फिल्म की कहानी ‘जुनून’ के बारे में है.  यह श्री और मायरा की एक प्रेम कहानी है, जो अब परिवारों के बीच दुश्मनी के कारण मौजूद नही है. श्री और मायरा फिल्म बनाने वाले छात्र थे, जहां वह अपने अन्य दोस्तों के साथ एक हान्टेड पहाड़ियों पर अपने प्रोजेक्ट के लिए शार्ट फिल्म शूट करने गए थे. जब वह शूटिंग के लिए पहाड़ियों पर जाते हैं,  तो उन्हें कुछ रहस्यमय घटनाओं से दो चार होना पड़ता है. समूह के सदस्य गायब होने लगते हैं. किसी को भी एक दूसरे पर भरोसा नही रह जाता.

फिल्म के लेखक व निर्देशक वीर नारायण कहते हैं- ‘‘मैं 14 साल से निर्देशन और फिल्म निर्माण से जुड़ा रहा हूं. मैंने इस फिल्म के साथ आने के लिए सही समय का इंतजार किया. मुझे लगता हैं कि यह बिलकुल सही समय है. अब दर्शक फिल्म के कंटेंट के आधार पर उसे देखना पसंद करते हैं. मुझे और मेरी स्क्रिप्ट पर विश्वास करने के लिए निर्माता उमर शेख सर और गुलशन जी को धन्यवाद करना चाहता हूं. फिल्म ‘भयम’ में जुनून, रोमांच, हौरर और एक्शन के साथ बहुत कुछ नया है.’’

ये भी पढ़ें- सोनाक्षी सिन्हा की कानूनी टीम ने भेजा मुरादाबाद पुलिस को ईमेल

Gulshan-Monji

फिल्म ‘‘भयम’ ’की निर्माता गुलशन मोनजी इस फिल्म को बनाने की वजह बताते हुए कहती हैं-फिल्म ‘भयम’ का कौंसेप्ट बहुत हटकर है. लेखक व निर्देशक वीर नारायण ने जब फिल्म की कहानी बतायी, तो हमें लगा की एक अच्छी बौलीवुड फिल्म बनायी जा सकती है. फिल्म में गौरव चन्सोरिया, अंकिता कश्यप, बीना भट्ट, सिम्बा नागपाल, स्पर्श शर्मा, ऋतुराज सिंह जैसे कलाकार हैं.’’

ये भी पढ़ें- दिशा पाटनी ने किया बैकफ्लिप स्टंट

Tags:
COMMENT