फिल्म ‘‘थ्री इडियट्स’’ में एक छोटा सा कैमियो करके अपने करियर की शुरुआत करने वाले अली फजल ने जूडी डेंच के संग फिल्म ‘‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’’ में मेन लीड करके अंतरराष्ट्रीय सिनेमा में अपनी एक मजबूत पकड़ बना ली है. इसी के चलते उन्हे ‘आस्कर अवार्ड’’ यानी कि अकादमी का सदस्य भी चुना गया है. फिलहाल वह बालीवुड में अपनी फिल्म ‘‘हैप्पी फिर भाग जाएगी’’ को लेकर चर्चा में हैं. आनंद एल राय निर्मित और मुदस्सर अजीज निर्देशित यह फिल्म ‘हैप्पी भाग जाएगी’ की सिक्वअल फिल्म है.

फिल्म ‘‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’’ को लेकर अब क्या कहना चाहेंगे?

इस फिल्म को करने का अनुभव बहुत अच्छा रहा. हालीवुड के अति मशहूर निर्देशक के साथ काम करने का अवसर मिला. इस तरह की फिल्म का हिस्सा बनना किसी भी कलाकार के लिए गौरव की बात होती है. अब हालात यह हैं कि एक तरफ मैं बालीवुड में व्यस्त हूं, तो दूसरी तरफ अमेरिका में काम कर रहा हूं. अक्टूबर या नवंबर माह में हालीवुड की एक फिल्म की शूटिंग शुरू करूंगा. बालीवुड में किसी भी कलाकार को अब तक हालीवुड में इतना बड़ा काम करने का मौका नहीं मिला है. अब तक हालीवुड में किसी भी भारतीय कलाकार ने लीड रोल नहीं किया है. मैंने पहली बार ‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ में लीड किरदार निभाया है.

आप पहली बार आस्कर फिल्म फेस्टिवल में ‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ की वजह से गए थे. क्या अनुभव रहे?

हमारी यह फिल्म आस्कर के अलावा ग्लोब सहित कई फिल्म समारोहों में गयी थी. इन फेस्टिवल का हिस्सा बनने का मेरा अनुभव ‘वंस इन ए लाइफ टाइम’ रहा. हमारी फिल्म कास्ट्यूम और मेकअप के लिए नामीनेटेड थी. अभी मुझे इसी फिल्म के लिए रशिया के सोची फिल्म फेस्टिवल में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला है. 25 मिलियन की लागत से बनी इस फिल्म ने 100 मिलियन से ज्यादा कमा लिया है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT