रूस्तमे हिंद दारा सिंह की सीमा सोनिक अलीमचंद लिखित जीवनी ‘‘दी दारा अका दारा सिंह’’ के बाजार में आने से दारा सिंह के बेटे व अभिनेता विंदू अति उत्साहित हैं. वह अपने पिता की जीवनी को प्रेरणादायक मानते हैं.

इस किताब के विमोचन के अवसर पर विंदू ने कहा-‘‘मैंने दो सपने देखे थे. एक अपने पिता दारा सिंह पर एक किताब बाजार में लाने और दूसरा कुश्ती पर फिल्म बनाने का. इसमें से मेरा एक सपना आज पूरा हो गया. सीमा सोनिक अलीमचंद ने मेरे पिता की जीवनी लिख दी, जो कि आज बाजार में आ गयी. अब मैं अपने दूसरे सपने को पूरा करने की दिशा में काम करना शुरू करने वाला हूं.’’

विंदू ने आगे कहा-‘‘पुरानी पीढ़ी के लोग मेरे पिता से बखूबी परिचित हैं. लेकिन आज जो 14-15 साल की पीढ़ी है, वह मेरे पिता से कम परिचित है. पर इस किताब के माध्यम से वह परिचित हो सकेंगे. मेरे पिता की जीवन हर किसी के लिए प्रेरणादायक है. जबकि मेरे पिता की शक्ति के ही कारण एक जुमला लोग अक्सर कहते हैं-‘तू खुद को दारा सिंह समझता है?’.

पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के बच्चे इस तरह के संवाद आपस में एक दूसरे से कहते रहते हैं. अब उन्हें इस किताब से मेरे पिता के बारे में ज्यादा जानने व प्रेरणा लेने का अवसर मिलेगा. मेरे पिता की लोकप्रियता इतनी है कि जब भी मैं अपने पिता की कोई तस्वीर या उनकी कुश्ती का कोई वीडियो सोशल मीडिया में डालता हूं, लाखों लोग उसे पसंद करते हैं.’’

विंदू दारा सिंह ने बताया कि वह अपने पिता की जीवनी पर एक बायोपिक फिल्म बनाने की तैयारी में लगे हुए हैं. पर फिल्म में दारा सिंह का किरदार कौन निभाएगा, यह तय नहीं है. वैसे उन्होंने अक्षय कुमार से कहा है कि वह दारा सिंह की बायोपिक फिल्म में दारा सिंह का किरदार निभाएं.

विंदू कहते हैं-’‘देखिए, सीमा जी ने मेरे पिता की जीवनी को किताब के रूप में लोगों के सामने ला दिया. जबकि मैने अपने पिता की बायोपिक फिल्म की पटकथा फारुख मिर्जा के साथ बैठकर लिखी है. हमारी इस फिल्म के लिए निर्माता भी मिल गया है. बाकी की तैयारियां कर रहा हूं.’’

COMMENT