भाई और बहन के बीच प्रेम के त्यौहार रक्षाबंधन में राखी का बहुत महत्व होता है. कलाई में राखी को बांध कर रक्षाबंधन को सैलीब्रेट किया जाता है. राखी धागे से तैयार होती है. समय के साथ धागे से तैयार होने वाली राखी बदल गई है. अब सूती धागे के साथ रेशम के धागे से राखी तैयार होने लगी है. राखी अब सूत और रेशम के साथसाथ सोने और चांदी से भी तैयार होने लगी है.

सोने से बनने वाली राखी मंहगी होती है. ऐेसे में चांदी से बनने वाली राखी काफी पंसद की जाने लगी है. चांदी से तैयार होने वाली राखी 150 रूपये से लेकर 1000 रूपये तक में मिलती है. कुछ राखियां चांदी और सोने के पानी से तैयार की जाती है. इनकी कीमत 100 से लेकर 250 रूपये तक होती है. वैसे शौकीन लोगों के लिये आर्डर पर सोने चांदी और डायमंड से राखी तैयार की जाती है. इनकी कीमत 1 लाख तक होती है.

लखनऊ के चैक सर्राफा बाजार में विनोद ज्वेलर्स के मालिक विनोद माहेश्वरी का कहना है कि ग्राहकों को सबसे अधिक चांदी से तैयार राखी पंसद आती है. 4-5 साल पहले जब इस तरह की राखी का चलन शुरू हुआ था तब से अब तक उसकी मांग दिनोदिन बढ़ती जा रही है. चांदी की राखी के गिफ्ट पैक के साथ रोली, अक्षत जैसे जरूरी सामान भी रखे जाते है. अब लोग साधारण राखियों की जगह पर चांदी की राखी पंसद करने लगे है.

चांदी के ब्रेसलेट तो लोग पहले से ही पहनना पसंद करते हैं और अब राखी भी पसंद करने लगे है. इस बार राखी के त्यौहार के समय चांदी की राखियों की डिमांड ब-सजयने वाली है.ऐसे में राखियों के त्यौहार में डिजाइनर राखी का मजा लीजिये.