मैं 32 वर्षीया विवाहिता, 2 बच्चों की मां हूं. आज से 7-8 वर्ष पहले एक विवाहित अमीर आदमी ने मु?ो यह कह कर अपने प्यार के जाल में फंसा लिया कि उस की पहली शादी सिर्फ नाम की शादी है, वह अपनी पत्नी से अलग रहता है. मैं ने भी उस की बातों को सच मान कर अपने परिवार वालों के मना करने के बावजूद उस से शादी कर ली. उस से मेरे 2 बच्चे हुए. पर अब वह बदल गया है. उस ने अपनी सारी प्रौपर्टी अपनी पहली पत्नी और बच्चों के नाम कर दी है. मु?ो वह सिर्फ घर का खर्च देता है. वह यह भी कहता है कि उस ने मु?ा से सिर्फ सैक्स के लिए शादी की थी. मेरे बच्चे बड़े हो रहे हैं. मु?ो अपने और उन के भविष्य की चिंता सताती है. आप ही राह दिखाइए, मैं क्या करूं?

आप ने जानबूझ कर अगर नकली विवाह ही सही, किया है तो सैक्स तो होना ही था. अब वह आप के बच्चों का पिता है इसलिए जब तक हो सके उस से खर्चा लेती रहें. बच्चों को इस मामले से दूर रखें. पुरुष की पहली पत्नी से मुलाकात होने पर दोस्ती का भाव रखें क्योंकि लड़ाई?ागड़े में आप का ही नुकसान होगा. अपनी जिंदगी को नए सिरे से शुरू करने के बारे में सोचें. कुछ काम कर के अपनी आमदनी बढ़ाने की कोशिश करें. अखबार व इंटरनैट द्वारा दूसरे जीवनसाथी की तलाश करें. स्वयं को स्मार्ट व आत्मविश्वासी बनाएं. गलती का रोना रोने की स्थिति का मुकाबला करें. अपने इस नकली पति पर ज्यादा से ज्यादा पैसे लेने का लगातार दबाव बनाए रखें. हालांकि कानून आप के साथ है पर कानूनी खर्च बहुत ज्यादा होता है, इसलिए बिना अदालत जाए जो भी मिले उसे ले लें.

बच्चे जब 12-14 साल के हो जाएं तो धीरेधीरे उन्हें अपनी भूल के बारे में बताएं और कहें कि ऐसा आप ने भावनाओं में बह कर किया था. लेकिन अब उन की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी आप की है. ऐसा कहने पर बच्चे आप का साथ देंगे और आप को सम?ोंगे.

 

मेरी 13 वर्षीय बेटी है. उस के पीरियड्स 11 वर्ष की आयु में शुरू हुए थे. पहले सब ठीक चल रहा था पर अब कुछ समय से उस के पीरियड्स 3-4 महीने के अंतराल पर हो रहे हैं. राय दीजिए, क्या करूं?

पीरियड्स के शुरुआती समय में कई बार ऐसा हो जाता है लेकिन यह कोई बीमारी नहीं है. फिर भी आप अपनी बेटी को किसी महिला रोग विशेषज्ञ को दिखा लें. अगर कोई परेशानी होगी तो कुछ जरूरी जांचों के बाद दवाओं से समस्या दूर हो जाएगी.

मैं 25 वर्षीय अविवाहित युवक हूं. आप से जानना चाहता हूं कि शादी के बाद पतिपत्नी में से एक के वैजीटेरियन और दूसरे के नौनवैजीटेरियन होने से क्या सैक्सलाइफ पर कोई असर पड़ेगा? एक के वैजीटेरियन और दूसरे के नौनवैजीटेरियन होने से वैवाहिक जीवन पर कोई असर नहीं पड़ता. यह अपनीअपनी पसंद है. हां, अगर पत्नी को वैजीटेरियन खाना पसंद है, और आप किचन में नौनवेज बनाते हैं तो हो सकता है उन को परेशानी हो. ज्यादा अच्छा तो रहेगा कि विवाह के बाद दोनों या तो वैजीटेरियन बन जाएं या नौनवैजीटेरियन.

 

मैं 14 वर्षीय किशोरी हूं. मेरे 2 बौयफ्रैंड हैं. एक से बात करती हूं तो दूसरा नाराज हो जाता है. दूसरे को मनाती हूं तो पहला नाराज हो जाता है. मैं दोनों से दोस्ती रखना चाहती हूं, सम?ा नहीं आता कैसे करूं. आप ही कोई सलाह दीजिए.

आप की बात से लगता है कि आप के दोनों दोस्त आप से दोस्ती रखना चाहते हैं और आप भी दोनों का साथ चाहती हैं, ऐसे में आप को सिर्फ इतना करना है कि अपने दोनों दोस्तों की आपस में दोस्ती करा दें. फिर देखिए कैसे आप की समस्या हल होती है और आप एकदूसरे का साथ ऐंजौय करते हैं.

 

मैं 19 वर्षीय विवाहिता हूं. शादी से पहले एक लड़के से प्यार करती थी पर पारिवारिक दबाव के कारण शादी किसी और से करनी पड़ी. शादी के बाद ससुराल वाले मु?ो मानसिक तौर पर प्रताडि़त करने लगे और मैं डिप्रैशन में चली गई. जब मेरे पूर्व प्रेमी को यह पता चला तो उस ने मु?ो बहुत सपोर्ट किया. वह मु?ा से आज भी शादी करना चाहता है और मैं भी अपनी आगे की जिंदगी उस के साथ बिताना चाहती हूं. मु?ो क्या करना चाहिए? सही राह सु?ाइए?

शादी के बाद आप के ससुराल वालों ने आप के साथ गलत व्यवहार क्यों किया? क्या आप ने कभी यह जानने की कोशिश की? कहीं आप के पूर्व प्रेम संबंध ही तो आप की समस्या का कारण नहीं? अपने पति व ससुराल वालों से उन की नाराजगी का कारण जानने की कोशिश करें. आमनेसामने बैठ कर बात करें. आपस में सामंजस्य स्थापित करने का प्रयास करें. लेकिन अगर आप पूर्व प्रेमी के साथ ही रहना चाहती हैं तो यह राह भी इतनी आसान नहीं होगी. आप को इस के लिए पति से तलाक लेना होगा जिस में लंबा समय और पैसा लगेगा. कुछ भी निर्णय लेने से पहले एक बार पति व ससुराल वालों के साथ बात कर के समस्या को सुल?ाने की कोशिश अवश्य करें.

 

मैं 35 वर्षीय विवाहिता हूं. आजकल मेरे और पति के बीच दूरियां बढ़ रही हैं. हम एकदूसरे से उखड़ेउखड़े रहने लगे हैं. हमारे रिश्ते में से प्यार की मिठास कहीं खो सी गई है. आप ही बताइए, क्या करूं?

किसी भी रिश्ते में दूरियों का कारण एकदूसरे को समय न देना होता है. आप के और आप के पति के बीच भी दूरियों व प्रेमाभाव का यही कारण है. आप अपने काम में कितने भी व्यस्त क्यों न हों, एकदूसरे के लिए समय निकालें. फिर देखिए, रिश्तों में कैसे मिठास वापस आती है.