प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर इस छोटे से देश में पर्यटन का हर मिजाज मौजूद है. यहां की हरियाली, पहाड़ व बर्फ के पर्वत देख कर यकीन मानिए आप गद्गद हो जाएंगे.

पिछले दिनों जब हम लोग स्विट्जरलैंड के एक पूर्वी नगर में थे तो अचानक एक स्विस मित्र ने सलाह दी कि क्यों न आज रात्रि का भोजन हम एक नए देश में लें. मु झे कुछ हैरानी हुई. क्योंकि शाम 6 बजे तक तो हम स्विस कंपनी के दफ्तर में ही रहेंगे. मेरे पूछने पर मेरे मित्र ने बताया कि हम शाम 7 बजे यहां से कार में चलेंगे और लगभग आधे घंटे में उस देश के अंदर पहुंच जाएंगे. मु झे लगा कि शायद वे लोग आस्ट्रिया में डिनर लेने की योजना बना रहे हैं, क्योंकि आस्ट्रिया उस स्थान से बहुत निकट था. किंतु उन्होंने बताया कि वे आस्ट्रिया नहीं बल्कि कहीं और जाने वाले हैं.

वह देश था लिक्टेंस्टाइन, जो स्विट्जरलैंड व आस्ट्रिया के बीच में बसा है, जहां की हरियाली, पहाड़ व बर्फ के पर्वत यहां आने वाले सैलानियों के मन को मोह लेते हैं. इस देश के पश्चिमी छोर पर राइन नदी बहती है जो इस की सुंदरता में चार चांद लगा देती है.

हम लोग लगभग सवा 7 बजे शाम को रवाना हुए और लगभग आधे घंटे बाद राइन नदी के पुल को पार करते समय लिक्टेंस्टाइन देश का बोर्ड लगा दिखा और कुछ सैकंडों के अंदर ही हम लिक्टेंस्टाइन में थे. कोई कस्टम चैकिंग नहीं, कोई अवरोध नहीं, लगभग मुक्त सीमा. बस, केवल स्विट्जरलैंड का वीजा होना ही लिक्टेंस्टाइन में प्रवेश के लिए पर्याप्त है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT