रूस ने गूगल को खुलेआम चेताया है कि अगर उसने कुछ वेबसाइट्स को ब्लौक नहीं किया तो वह अपने देश से गूगल को हमेशा के लिए ही बैन कर देगा. रूस ने एक कानून के तहत कुछ वेबसाइट्स को सर्च से प्रतिबंधित विषयवस्तु हटाने की योजना बनाई थी. इनमें से कुछ में जातीय घृणा का प्रचार करता कंटेंट है तो कुछ वेबसाइट्स रूस को शुद्ध राजनीतिक कारणों पसंद नहीं हैं. मसलन यूक्रेन की न्यूज वेबसाइट. अब जब ये वेबसाइट अब भी गूगल पर सर्च हो रही हैं तो रूस को वार्निंग देनी पड़ी. इससे पहले रूस ने सुरक्षा के नाम पर LinkedIn और Telegram जैसे ऐप्स को बंद कर दिया है. लेकिन गूगल को रूसी कानूनों के अनुरूप रहने के लिए कुछ रियायतें दी गई हैं. चीन में भी गूगल बैन तो नहीं लेकिन वहां के लोकल सर्च इंजन से रिप्लेस्ड है.

Tags:
COMMENT