पूर्व कथा
रम्या अपनी बहन नंदिनी से छोटीछोटी बातों पर लड़ती थी. उन के झगड़ों से मां रचना परेशान हो जाती थीं. एक दिन रचना अपने परिवार को अपने विदेश ट्रांसफर की बात बताती हैं. अतीत की यादों में खोई रचना सहेली निमिषा के आने पर वर्तमान में लौट आती है. उस के पूछने पर वह बताती हैं कि बेटी रम्या, अपने पति प्रतीक के साथ मायके लौट आई है और नए व्यापार के लिए रुपए मांग रही है. परेशान रचना उसे अपने जीवन के उतारचढ़ाव के बारे में बताती हैं.

COMMENT