कल 30 मई से इंगलैंड में वनडे क्रिकेट का वर्ल्ड कप शुरू होने जा रहा है. इस महामुकाबले में 10 टीमें आपस में भिड़ेंगी. इसका मतलब है कि हर टीम बाकी टीमों के साथ मैच खेलेगी. इस तरह सेमीफाइनल से पहले कोई भी टीम 9 मैच खेलेगी और जिन 4 टीमों का सब से अच्छा प्रदर्शन होगा वे फाइनल में जाने की दावेदारी पेश करेंगी.

भारत की टीम अपने हालिया प्रदर्शन और इंगलैंड की सपाट पिचों के हिसाब से मजबूत दिख रही है और जिस तरह से 28 मई को बंगलादेश के खिलाफ खेले गए एक प्रैक्टिस मैच में भारत ने 359 बना कर विरोधी टीम पर आसान जीत हासिल की थी उस से यह साफ हो गया है कि हमारी टीम सही ट्रैक पर है.

कल के मैच में केएल राहुल और महेंद्र सिंह धोनी के शानदार शतकों की बदौलत भारत ने दूसरे अभ्यास मैच में बंगलादेश को 95 रन से हरा दिया था. केएल राहुल ने 99 गेंदों पर 12 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 108 रन बनाए थे जबकि महेंद्र सिंह धौनी ने 78 गेंदों पर 113 रन की बेहतरीन पारी खेली थी जिस में 8 चौके और 7 छक्के शामिल थे.  इन दोनों बल्लेबाजों ने 5वें विकेट के लिए 164 रन की साझेदारी की थी.

जब महेंद्र सिंह धौनी बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरे थे तब भारत 22 ओवर में अपने 4 विकेट खो चुका था और सिर्फ 102 रन ही बने थे. हमेशा की तरह धौनी ने क्रीज पर जमने में समय लगाया और धीरेधीरे अपने पुराने रंग में दिखे. उन्होंने स्पिन गेंदबाजों पर आगे बढ़ कर कई बेहतरीन शॉट लगाए और अपनी जानीपहचानी पावर हिटिंग से दर्शकों को खुश कर दिया. उन्होंने अबू जायद की गेंद पर अपनी पारी का छठा छक्का लगा कर केवल 73 गेंदों पर शतक पूरा किया था.

भारत का 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के साथ पहला मैच होगा. दक्षिण अफ्रीका ने कभी वर्ल्ड कप नहीं जीता है. वह इस बार कागजों पर मजबूत भी दिखाई दे रही है. लेकिन जिस तरह से महेंद्र सिंह धौनी ने प्रैक्टिस मैच में अपनी शानदार बल्लेबाजी दिखाई है उस से दक्षिण अफ्रीका की टीम चौकस हो गई होगी क्योंकि अगर धौनी की वजह से भारत का मिडिल आर्डर मजबूत होता है तो यह विपक्षी टीमों के लिए खतरे की बात है.

यहां एक बात और खास है कि चाहे भारत के कप्तान विराट कोहली हैं पर मैदान पर विपरीत हालात में महेंद्र सिंह धौनी ही टीम का हौसला बढ़ाते नजर आते हैं. वे फील्डिंग सजाने से ले कर किस गेंदबाज को कब गेंद थमानी है, ऐसे फैसले लेते हुए भी दिखाई देते हैं. उन की विकेटकीपिंग तो है ही लाजवाब.

कुलमिला कर अगर इस वर्ल्ड कप में महेंद्र सिंह धौनी अपनी फोर्म को बरकरार रखेंगे तो भारत इस टूर्नामेंट को तीसरी बार जीतने में कामयाब हो जाएगा.

ये भी पढ़ें- आईपीएल 2019: मुंबई इंडियंस ने जीता खिताब

Tags:
COMMENT