जो हमें किसी भी तरह की शिक्षा देता है, आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है उसे गुरु कहा जाता है. खेलों से जुड़े कोच भी इसी श्रेणी में आते हैं, लेकिन कुछ लोग गुरु की गरिमा पर काली स्याही पोत देते हैं.

इंगलैंड के एक पूर्व फुटबौल कोच बैरी बेनल उन्हीं में से एक हैं. उन पर बच्चों के 50 से ज्यादा बार यौनशोषण करने के आरोप लगे और उन्हें 30 साल की सजा सुनाई गई.

Tags:
COMMENT