भारत और औस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला शुक्रवार (14 दिसंबर) से शुरू हो रहा है. मेजबान टीम पर यह मुकाबला जीतकर सीरीज में बराबरी पर आने का दबाव है. हालांकि, औस्ट्रेलियाई टीम के लिए यह आसान नहीं होगा.

मेजबान टीम का पिछले एक साल का प्रदर्शन उसके प्रशंसकों के लिए निराश करने वाला रहा है. उसके खराब खेल का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इससे पहले 1984 में ही उसने इतना कमजोर प्रदर्शन किया था.

Tags:
COMMENT