जिस भगवान की मर्जी के बगैर बच्चा पैदा होना तो दूर की बात है पत्ता भी न हिलता हो उसकी मर्जी के बिना फर्जी साधु कैसे पैदा हो सकते हैं यह बात अब हैरानी, दिलचस्पी या चिंता की नहीं बल्कि शोध का विषय हो चली है. खुद को असली साबित करने के लिए कुछ कथित साधु संतों के एक संगठन को फर्जी बाबाओं की लिस्ट कुछ और नहीं बल्कि धर्म के अपने शाश्वत धंधे को चमकाए रखने का टोटका भर है. यह टोटका अब से कुछ साल पहले तक अखबारों में अक्सर छपने वाले एक इश्तिहार की याद दिलाता है.

Tags:
COMMENT