होली का त्यौहार, रंगों का और उत्साह के त्यौहार के रूप में मनाया जाता है और इसी भावना के अनुरूप मनाया भी जाता है. मगर कुछ लोग ऐसे होते हैं जो इसमें भी "तंत्र मंत्र" और "साधना" को तव्वजो देते हैं. ऐसा करके अपना और दूसरों के जीवन को खतरे में डाल देते हैं.

होली में रंगों के साथ होलिका दहन भी परंपरा का आस्था का एक प्रतीक है. यह माना जाता है कि होलिका दहन सारी बुराइयों को खत्म करने का तरीका है.

इसे  कुछ कम अक्ल और मंदबुद्धि लोग तंत्र साधना का माध्यम समझ बूझ लेते हैं और किसी मासूम की बलि चढ़ा कर   काली जादुई शक्तियां प्राप्त करना इनकी जुगत में होता है. मगर अंततः कानून के हाथों पहुंचकर ऐसे लोग अपना आगे का जीवन जेल में बिताया करते हैं.

आइए! आज आपको हम देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में एक ऐसे घटना क्रम से रूबरू कराते हैं जिन्हें देख समझ पढ़कर आप आश्चर्य करेंगे कि आज के आधुनिक जमाने में भी होली उत्सव के इस त्यौहार के पीछे बलि आदि की कोई योजना बना सकता है.

ये भी पढ़ें- धर्म और राजनीति के वार, रिश्ते तार तार

दरअसल, हर चीज का दो पक्ष होता है. होली के रंगीन पर्व के श्याह पक्ष की हकीकत यह है आज भी पिछड़े हुए इलाकों में इसे तंत्र साधना का बहुत बड़ा माध्यम माना जाता है.

देश की शीर्ष सिटी नोएडा जैसे विकसित सिटी में अगर कोई बलि चढ़ाने की योजना बनाने लगे तो यह कोई छोटी बात नहीं .

दरअसल, नोएडा के सेक्टर-63 थाना क्षेत्र के जारसी गांव में एक सात साल की बच्ची सीमा (काल्पनिक नाम) को उसके पड़ोसी ने कथित तौर पर होली उत्सव में बलि देने के लिए अपहरण कर लिया.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...