गर्ल्स हौस्टल के अंदर लड़कियों की एक अलग ही दुनिया होती है और उन्हें कई तरह के डर भी सताते हैं साथ ही एक छोटे से बंद कमरे में की दुनिया कभी-कभी बहुत ही नीरस सी हो जाती है. वैसे तो बहुत सी लड़कियों का ये ख्वाब होता है कि मैं भी गर्ल्स हौस्टल में रहुंगी और अकेले रह कर परिवार के किसी दबाव और डर के बिना मस्ती से जिऊंगी लेकिन जब वो हौस्टल में आती हैं तब समझ आता है कि परिवार के साथ रहना ही कितना अच्छा होता है क्योंकि जो सुरक्षा जो प्यार आपको अपने परिवार से मिलता है वो किसी से भी नहीं मिलता और ये कहने का तात्पर्य बिल्कुल भी नहीं है कि हर गर्ल्स हौस्टल ऐसे होते है कि आपको सुरक्षा ही न मिलें बहुत से हौस्टल अच्छे भी होते हैं जहां आपको कंपंनी अच्छी मिल जाती है तब आपको हौस्टल में अच्छा लगने लगता है और आप मज़े से रहती हैं.लेकिन फिर भी वहां आपको अपनी सुरक्षा का डर तो लगा ही रहता है.

अगर सिर्फ सुरक्षा की बात करें तो हौस्टल में अगर गार्ड न हो और ढंग की वार्डन न हो तो हौस्टल असुरक्षित ही रहता है साथ ही लड़कियों को अपने सामानों के चोरी होने का एक अलग ही डर होता है क्योंकि रूम पार्टनर पता नहीं कैसी मिले उसका व्यवहार कैसा हो ये नहीं पता होता और हमें उसी के साथ रूम शेयर करके रहना होता है.अक्सर ऐसा होता है कि किसी के कपड़े चोरी हो गए,किसी का पैसा चोरी हो जाता है हौस्टल से. इसलिए हौस्टल में कितनी ही सुरक्षा चाक चौबंद क्यों न हो लेकिन ये कुछ ऐसे डर हैं जो लड़कियों के मन हमेशा बने रहते हैं और कहीं न कहीं ये सही भी है क्योंकि ज्यादातर लड़कियों के साथ ऐसा होता है और हुआ है….मैं एक लेखक होते हुए ये बात आपसे इसलिए कह रहीं हूं क्योंकि मैं खुद भुक्तभोगी हूं इसलिए इतना तो पता है कि हौस्टल की जिंदगी कैसी होती है.

ये भी पढ़ें- कैसे समझें अकेलापन को सच्चा दोस्त

भले ही इन बातों की चिंता होती हो लेकिन गर्ल्स हौस्टल में लड़कियां मस्ती भी खूब करती हैं और अपनी जिंदगी भी खुलकर मजें में जीती हैं.एक दूसरे की बुराई करना, लड़ना-झगड़ना सब चलता है…. लेकिन मेरी ये सलाह है उन लड़कियों को जो हौस्टल में हैं या जो कभी रहने जाएंगी कि कभी कुछ गलत मत करना जिससे मां-बाप का सिर शर्म से झुके. हमेशा उन्हें गर्व की अनुभूती कराना. और कभी-कभी तो ऐसा भी होता है जब हौस्टल में कुछ लड़कियां खुद को हेड गर्ल समझने लगती हैं तो भाई मेरी सलाह है ऐसे लोगों से दूर ही रहें तो ज्यादा बेहतर होगा. लेकिन इन सबके बावजूद भी कुछ गर्ल्स हौस्टल ऐसे भी हैं जहां लड़कियां एक परिवार की तरह रहती हैं और एक-दूसरे का सर्पोट भी करती हैं. साथ मिलकर पार्टी भी करती हैं और जरूरत पड़ने पर एक-दूसरे की मदद भी करती हैं लेकिन हर हौस्टल ऐसे नहीं होते हैं इसलिए सावधान रहें और अपनी हर बात हर किसी से शेयर भी न करें क्योंकि कौन आपका भला चाहेगा और कौन बुरा ये बात आपको नहीं पता होती.

ये भी पढ़ें- पूजापाठ नहीं मेहनत से पैसे कमाए

Tags:
COMMENT