हमारा देश बाबा, पुजारी, तांत्रिक, हीलर, ओझा, फकीर, मौलवी और सत्संग व योगा की आड़ में कृपा बरसाने वालों के भरोसे चल रहा है. कोई समोसे की चटनी से चमत्कार का चूरन खिला रहा है तो कोई स्वदेसी का राग अलाप कर बनियागीरी कर रहा है. हालांकि इनसे भी ज्यादा खतरनाक ये बाबा, पुरोहित और तांत्रिक हैं जो हीलर/दुःख-दर्द निवारक का चोला पहनते हैं और अन्धविश्वासी लोगों की हर समस्या को सेक्स और रेप के जरिये दूर भगाने का स्वांग रचते हैं. जैसा कि महाराष्ट्र के ठाणे में हुआ है.

COMMENT