दिल्ली के संतनगर बुराड़ी इलाके में अंधविश्वास का भयावह रूप सामने आया है. 11 सदस्यों का एक संपन्न, शिक्षित, संयुक्त परिवार आत्मापरमात्मा के भ्रमजाल में फंस कर अपनी जान गंवा बैठा.  इसे देख, सुन कर समूचा देश सन्न रह गया. इस घटना ने देश की तमाम सामाजिक, शैक्षिक और वैज्ञानिक तरक्की को धता बता कर समाज के उस अंधकार को उजागर कर दिया है जिस के भीतर यह देश सदियों से डूबा रहा है.

Tags:
COMMENT