गंगा किनारे बसे धार्मिक शहर इलाहाबाद का अपना अलग धार्मिक महत्त्व है, जिसे घाट किनारे बैठे पंडे ज्यादा बेहतर जानते हैं. ये पंडे न केवल मुफ्त की दक्षिणा उड़ाते हैं, बल्कि इन्हें देश भर से आई महिलाओं के देह दर्शन भी फ्री में होते हैं. अलसुबह उठ कर पंडे अपनी पूजापाठ की दुकान का सामान ले कर अपने ठीए पर पहुंच जाते हैं और देर रात तक वहां मुफ्त का चंदन घिसते रहते हैं.

Tags:
COMMENT