18 जून, 2016  को महिला फाइटर पायलटों का पहला जत्था भारतीय वायु सेना में शामिल कर लिया जाएगा. एयर चीफ मार्शल अरूप राहा ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि इस महिला बैच में 3 ट्रेनी शामिल हैं. इन्हें वायु सेना में कॉम्बैट रोल के लिए शामिल किया गया है. ये सभी अपनी ट्रेनिग के दूसरे दौर में हैं. ख़ुशी कि बात तो यह है कि इन तीनों महिला पायलटों ने खुद लड़ाकू भूमिका में शामिल किए जाने की इच्छा जताई है.

वायु सेना ने साल 1991 में पहली बार किसी महिला को बतौर पायलट भरती किया था. लेकिन यह नियुक्ति सिर्फ हेलीकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट विमानों के लिए थी. यह खबर यक़ीनन महिला उत्थान के महत्व को दर्शाती है. पिछले कुछ सालों से इस के लिए बड़ी तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं और महिला सशक्तिकरण के कार्यों में तेजी भी आई है.

COMMENT