व्हाट्सऐप, फेसबुक, अखबारों के साथसाथ कई टीवी चैनल, जैसे ‘आस्था’, ‘संस्कार’, ‘दिव्य’, ‘दिशा’, ‘साधना’, ‘गौड’ आदि पोंगापंथी फैलाने में किसी न किसी तरह से लिप्त हैं.

फेसबुक, व्हाट्सऐप पर दिनों के अनुसार देवीदेवताओं की तसवीरें व संदेश आते हैं, जैसे सोमवार को शंकर, मंगलवार को हनुमान आदि. बस, एक बार ‘जय’ लिखो अधूरे काम पूरे होंगे. हजारों की संख्या में लोग, ‘जय,’ ‘प्रणाम,’ ‘जयकारा’ आदि फटाफट लिख भेजते हैं.  इसी तरह हजारों की संख्या में लोग लाइक और शेयर करते हैं.

COMMENT