सवाल

मेरा भाई 26 साल का है. वह एक मल्टीनैशनल कंपनी में नौकरी करता है. घर में मम्मी हैं, पापा हैं और मैं हूं. दिक्कत यह है कि मम्मी हमेशा भाई को डांटती रहती हैं. इस बात से वह चिड़चिड़ा हो गया है. जबकि वह न तो कोई नशा करता है और न ही उस की कोई गलत आदत है. वह घरखर्च भी चला रहा है, फिर भी मम्मी उस के सिर पर दानापानी ले कर चढ़ी रहतीं हैं. अब तो वह गुमसुम भी रहने लगा है. मुझे डर है कि कहीं वह डिप्रैशन का शिकार न हो जाए. मैं उस की मदद कैसे कर सकती हूं?

जवाब

कई मांओं को बेटों से जरूरत से ज्यादा आशाएं होती हैं और पूरी न होने पर वे चिड़चिड़ी हो जाती हैं. मम्मी के इतने कठोर व्यवहार का कोई ऐसा कारण होगा ही. सब से पहले आप अपनी मम्मी से बात करें और उन से सारी बातें पूछें कि आखिर वे ऐसा क्यों करती हैं. मम्मी से यह भी पूछें कि क्या उन्हें कोई परेशानी है उस से. अगर है तो वे खुल कर बात करें. रोजरोज की चिकचिक से जाहिर तौर पर इंसान चिड़चिड़ा हो जाता है और उस पर डिप्रैशन हावी होने लगता है.

यदि मम्मी न समझें तो पापा से बात करें. हो सकता है पापा अगर मम्मी को समझाएं तो वे समझ जाएं. अपने भाई से कहें कि गुमसुम न रहे और जो कुछ भी मन में चल रहा है उस के बारे में खुल कर बात करे. इस समस्या का हल केवल बातचीत ही है.

ये भी पढ़ें- जब से मेरी बेटी कोचिंग सेंटर में जाने लगी है, वह किसी को ‘तू’ कहती है तो कभी ‘ऐ’ कह कर बुलाती है. मैं क्या करूं?

ये भी पढ़ें- मुझे एक लड़की से प्यार हो गया है और इस वजह से मैं नहीं पढ़ रहा हूं. मैं क्या करूं ?

Tags:
COMMENT