सवाल

मैं 42 वर्षीय पुरुष हूं और अपने बीवीबच्चों के साथ रहता हूं. मेरे घर में मेरी पत्नी हमेशा ही मुझ से चिढ़ी हुई रहती है. उस की मु झ से हमेशा यह शिकायत रहती है कि मैं उस के लिए उतने महंगे कपड़े नहीं खरीदता या गहने नहीं खरीदता जैसे उस की किटी पार्टी की सहेलियों के पास हैं. अब आप ही बताएं जब बच्चों की पढ़ाई, घरखर्च और अन्य खर्चों में ही मेरी पूरी तनख्वाह उड़ जाएगी तो बीवी के खर्चे भला कैसे पूरे करूं?

ये भी पढ़ें- मैं एक लड़के से प्यार करती हूं. लेकिन वो नहीं करता. मैं कैसे उसका दिल जीतू?

जवाब

आप को अपनी पत्नी को समझाना चाहिए कि आप की आय में घरपरिवार के खर्चे ही पूरे नहीं बैठ रहे तो उन के शौक कैसे पूरे होंगे. हालांकि, औरतों को एकदूसरे की होड़ करने का शौक हमेशा से रहा है और इस में तो आप कुछ नहीं कर सकते.

हो यह सकता है कि आप अपनी पत्नी को महीने का पूरा घरखर्च हाथ में दें और उन से कह दें कि इस में से जो भी बचता है वह अपने लिए रख लें. इस से होगा यह कि वे जमीनी हकीकत से वाकिफ होंगी और उन्हें समझ आएगा कि व्यक्ति के सिर पर जब जिम्मेदारी पड़ती है तो क्या हालत होती है.

ये भी पढ़ें- मेरा बेटा कालेज जाने लगा है तब से उस ने जिद पकड़ ली है कि उसे अलग कमरा चाहिए. मैं क्या करूं ?

 

Tags:
COMMENT