सवाल
मैं 42 वर्षीया महिला हूं. मेरे 2 बच्चे हैं और पति सरकारी बैंक में अच्छी पोस्ट पर कार्यरत हैं. हाल ही में पति का तबादला दिल्ली हुआ है. समस्या यह है कि मेरी सास, जो 84 वर्षीया हैं, हमारे साथ रहने को तैयार नहीं हैं, जिस से हमें काफी दिक्कत होती है. कैसे हम इस समस्या का समाधान करें?

जवाब
ऐसा अधिकांश घरों में देखने को मिलता है कि घर के बड़े अपने बच्चों के साथ रहने को तैयार नहीं रहते, क्योंकि  बच्चों को उन का रोकनाटोकना अच्छा जो नहीं लगता.

दरअसल, बच्चे चाहते हैं कि उन के मातापिता आसपास तो रहें लेकिन साथ नहीं. और जब मातापिता इस बात को महसूस करने लगते हैं तो उन से थोड़ी दूरी बना लेते हैं ताकि वे भी खुश रहें और उन के बच्चे भी आजादी से जीवन व्यतीत कर सकें.

आप के मामले में हो सकता है कि शुरुआत में आप लोग साथ रहते हों और आप लोगों के बीच भी मनमुटाव हुआ हो जिस के कारण वे अब आप के साथ रहने को तैयार नहीं हों. ऐसे में आप दुखी न हों क्योंकि गलती हर इंसान से होती है, बल्कि अगर वे अकेली रह रही हैं तो उन की अच्छे से सेवा करें.

इस से हो सकता है धीरेधीरे उन का आप के प्रति व्यवहार बदले और वे फिर से आप के साथ रहने को तैयार हो जाएं. अगर आप के रिश्ते हमेशा अच्छे रहे हैं तो उन कारणों को जानने की कोशिश करें जिन के चलते वे खुद को अलगथलग महसूस करती हैं. अगर एक बार पूरी स्थिति स्पष्ट हो जाएगी तो आप की समस्या का हल भी निकल जाएगा.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...