सवाल

मेरी उम्र 39 साल है, मैं मध्यवर्गीय पुरुष हूं. मेरी पत्नी और बच्चे मेरी बात नहीं सुनते. पत्नी बच्चों के सामने मुझ पर चीखतीचिल्लाती है और बच्चे ढंग से बात नहीं करना चाहते. मैं कभीकभी सोचता हूं कि मैं इन्हें घरखर्च न दूं तो ये कहीं के नहीं रहेंगे. लेकिन मेरा ईमान मुझे यह करने से रोकता है. मुझे समझ नहीं आता आखिर मैं क्या करूं?

जवाब

आप के कहेनुसार आप का परिवार आप के प्रति सही व्यवहार नहीं कर रहा है. लेकिन क्या आप ने यह जानने की कोशिश की कि इस के पीछे आखिर कारण क्या है. सब से पहले तो आप इस के पीछे छिपा कारण जानिए. आप की पत्नी का आप पर चीखनाचिल्लाना 2 ही बातों का संकेत है. पहला, आप उन के मनमुताबिक कार्य नहीं करते, दूसरे, आप चुप रहते हैं. बच्चों के सामने आप के ऊपर चिल्लाने से आप की पत्नी आप की छवि बच्चों के सामने कुचल देती हैं.

ये भी पढ़ें- मैं एक लड़की से प्यार करता हूं जब मैंने शादी का प्रस्ताव रखा तो उस ने मेरा मजाक बनाया, क्या करूं?

इस विषय में आप को अपनी पत्नी से बात करनी चाहिए. यकीनन वे समझेंगी. बच्चों का गलत व्यवहार मां की देखादेखी ही है, यदि वे अपनी बोली और व्यवहार सुधार लें, तो बच्चे भी ठीक हो जाएंगे. यदि ऐसा नहीं होता तो आप को कुछ कठोर कदम उठाने आवश्यक हो जाएंगे.

Tags:
COMMENT