उन्नाव के विधायक कुलदीप सेंगर के बाद पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री और बीजेपी के नेता स्वामी चिन्मयानंद पर लगे आरोप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गले की फांस बन गये है. उन्नाव और शाहजहांपुर की घटना के बहाने योगी आदित्यनाथ की जातीय घेराबंदी की जा रही है. दोनों मामले में मुख्यमंत्री की बदनामी का सबब बन रही है. असल में कुलदीप सेंगर और स्वामी चिन्मयानंद दोनो ही ठाकुर जाति के लोग है. कुलदीप सेंगर के मामले में योगी के साथ उत्तर प्रदेश के डीजीपी तक पर जातिगत आधार पर आरोप लगाये गये थे. स्वामी चिन्मयानंद के मामलें में जाति के साथ ही साथ संत की छवि और पहनावा भी आरोपों को हवा देने का काम कर रही है.

Tags:
COMMENT