दिल्ली महज देश की राजधानी नहीं है बल्कि भारतीय संस्कृति का अद्भुत संगम भी है. दिल्ली को आप लघु भारत भी कह सकते हैं. फर्राटा भरती मेट्रो, सड़कों पर दौड़ते वाहन, चांदनी चौक के पराठे, पुरानी दिल्ली की सकरी गलियां, गालिब का शहर, भारत का भविष्य तय करती संसद, शूरवीरों की गाथा सुनाता इंडिया गेट, कनॉट प्लेस में लंबी गाड़ियों वाले लोगों की जमात और वहीं पर इश्क लड़ाते नौजवान...

Tags:
COMMENT