आम तौर पर महिलाएं दो हालातों में ही सर मुड़वातीं हैं, पहला जब वे विधवा होतीं हैं तब और दूसरे तब जब सन्यासिन बनतीं हैं. पहली स्थिति अब हालांकि पहले की तरह बाध्यता नहीं रही है, लेकिन मध्यप्रदेश की अध्यापिकाओं की यह मजबूरी हो गई थी कि सरकार का ध्यान खींचने उन्होंने अपने सौन्दर्य के पर्याय लंबे घने केशों पर उस्तरा चलवा कर सूबे में हाहाकार मचा डाला. 13 जनवरी को भोपाल की सड़कों पर रथ ही रथ दौड़ रहे थे, एक सरकारी एकात्म यात्रा के और दूसरे अध्यापकों के जो प्रदेश के कोने कोने से आए थे.

COMMENT