पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने ‘कसाब’ का विश्लेषण करते हुए उसकी संज्ञा कांग्रेस-समाजवादी पार्टी और बसपा से कहा था. अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय लोकदल और बसपा को ‘शराब’ कहा ऐसे ही मुददों से चुनाव प्रचार में जमीनी मुद्दे विकास, कालाधन, बेरोजगारी, चुनाव सुधार, जीएसटी, नोटबंदी, कालाधन  और अपराध जैसे मुददे चर्चा से बाहर हो रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी ने 2014 के लोकसभा चुनावों में जब नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया तब नरेन्द्र मोदी ने धर्म की राजनीति को दरकिनार करके विकास की राजनीति पर जोर दिया.

Tags:
COMMENT