सामाजिक, आर्थिक क्रांतियों का अगुवा फ्रांस एक बार फिर आंदोलन की वजह से सुर्खियों में है. फ्रांस में पिछले 3 हफ्तों से सरकार के खिलाफ जारी हिंसक प्रदर्शनों से राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन के सामने गंभीर संकट खड़ा हो गया है. युवा सड़कों पर हैं. प्रदर्शन उग्र होता जा रहा है. विश्लेषक गृहयुद्ध जैसे हालात बता रहे हैं. फ्रांस में इस तरह की हिंसा कई दशकों बाद हुई है.

Tags:
COMMENT